उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना : UP Shadi Anudan Yojana | Application Form

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना ऑनलाइन। शादी अनुदान योजना उत्तर प्रदेश 2020। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना आवेदन फॉर्म | पुत्री विवाह अनुदान योजना उत्तर प्रदेश

राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना की शुरुआत की गई। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा गरीब परिवार की बेटियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह आर्थिक सहायता ₹51000 की होगी। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक, सामान्य वर्ग के परिवारों की बेटियों को ही इस योजना के तहत शामिल किया गया है।

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको उत्तर प्रदेश के अनुदान योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना से जुड़ी सभी जानकारी जैसे दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया, पात्रता आदि आज हम आपके साथ साझा करने जा रहे हैं। अगर आप भी अपनी बेटी की शादी के लिए आर्थिक लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे आज के इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

 उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

यूपी विवाह अनुदान योजना 2020 क्या है?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जी यूपी शादी अनुदान योजना का संचालन कर रहे हैं। जिससे आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों की बेटियों की शादी में आर्थिक सहायता हो सके। यूपी शादी अनुदान योजना के तहत आवेदन के लिए शादी की तारीख पर पुत्री की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होना अनिवार्य है। तथा वर की आयु 21 वर्ष या उससे अधिक होना अनिवार्य है। एक परिवार की अधिकतम दो बेटियां
हेतु अनुदान इस योजना के अंतर्गत अनुमान्य होगा।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना ऑनलाइन आवेदन

उत्तर प्रदेश के जो लाभार्थी उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना में आवेदन करना चाहते हैं। तथा बेटियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता प्राप्त करना चाहते हैं। तो उनके परिवार की वार्षिक आय को गरीबी सीमा के अंतर्गत होना चाहिए। जैसे कि इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों की वार्षिक आय 46080 रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए । तथा शहरी नागरिकों की वार्षिक आय 56460 रुपए से कम ही होनी चाहिए।उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना के अंतर्गत इसका लाभ उठाने के लिए जो लोग इसमें आवेदन करना चाहते हैं। वह अधिकारी वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

यूपी विवाह अनुदान योजना का उद्देश्य क्या है?

उत्तर प्रदेश के गरीब परिवार जो आर्थिक रूप से कमजोर है। जिनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है । आर्थिक स्थिति के कारण है अपनी बेटी की शादी अच्छे नहीं कर पाते हैं। इन सभी बातों पर ध्यान केंद्रित करते हुए राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग, अन्य पिछड़ा वर्ग के परिवारों की बेटियों की शादी के लिए राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता का लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना का एक मुख्य उद्देश्य बेटियों को लेकर लोगों की नकारात्मक सोच को बदलना है। लड़कियों के विकास के लिए इस नकारात्मक सोच को बदलना बहुत ही आवश्यक है।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 के मुख्य तथ्य

योजना का नामउत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना  
आरम्भ की गयीमुख्यमंत्री आदित्य नाथ जी के द्वारा  
सहायता धनराशि51,000 रूपये  
लाभार्थीउत्तर प्रदेश की कन्याये  
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://shadianudan.upsdc.gov.in/  

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 न्यू अपडेट

अब इस योजना के तहत बेटियों के विवाह के लिए दी जाने वाली धनराशि लाभ सीधे लाभार्थी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दिया जाएगा।इसी कारण से आवेदक के पास बैंक अकाउंट होना बहुत ही आवश्यक है और बैंक अकाउंट सिर्फ राष्ट्रीय बैंक का होना चाहिए। सरकार द्वारा विवाह के लिए दी जाने वाली धनराशि आवेदक बेटी के विवाह के समय ही निकाल सकता है। इस योजना के तहत आपको अपनी बेटी की शादी से 90 दिन पहले और 90 दिन बाद तक आवेदन करना होगा। वरना आपका आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा।इस योजना के तहत लड़कियों को अनुदान के साथ चिकित्सक सुविधा का भी लाभ प्रदान किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 के लाभ

  • विवाह अनुदान योजना का लाभ गरीब परिवार की लड़कियों को प्रदान किया।
  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, पिछड़ा वर्ग, आर्थिक रुप से कमजोर सामान्य आदि परिवारों की बेटियों को विवाह के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का एक उद्देश्य बेटियों को लेकर लोगों की नकारात्मक सोच को बदलना है।
  • इस योजना के अंतर्गत अगर आप भी अपनी बेटी की शादी के लिए सरकार द्वारा दी जा रही है धन राशि का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं।तो इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन ही आवेदन कर सकते हैं।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 में आवेदक की पात्रता

  • आवेदन करने हेतु आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना आवश्यक है।
  • इस योजना के तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, पिछड़ा वर्ग, आर्थिक रुप से कमजोर सामान्य आदि वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोग ही पात्र होंगे।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों के लाभार्थी के परिवार की वार्षिक आय ₹46080 से कम होनी चाहिए। तथा शहरी क्षेत्रों में परिवार की वार्षिक आय ₹56460 से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • योजना के तहत विवाह के समय पर लड़की की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। तथा वर की आयु 21 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 में आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आवेदक का पहचान पत्र
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नंबर
  • आवेदक का शादी प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

राज्य के इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाने के लिए इसके तहत आवेदन करना चाहते हैं। वह नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें:-

  • सबसे पहले आवेदक को उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • ऑफिशियल वेबसाइट पर आपके सामने होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • होम पेज पर आपके सामने एक पंजीकरण का विकल्प होगा।
  • इसके नीचे आपको कई विकल्प दिए गए होंगे।
  • उन विकल्पों में से आपको अपनी जाति के अनुसार विकल्प चुनना है। उस पर क्लिक कर देना है।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • इस आवेदन फॉर्म में आप से पूछी गई जानकारी जैसे कि आवेदक का नाम, आवेदक का आधार कार्ड ,बेटी की शादी की तिथि आदि भरना होगा।
  • इन सभी जानकारियों को भरने के पश्चात आपको जमा के बटन पर क्लिक करना है।
  • बटन पर क्लिक करने के पश्चात आपका आवेदन आवेदन फॉर्म सबमिट हो जाएगा।
  • अब आप अपने आवेदन फॉर्म का प्रिंट निकाल सकते हैं।
  • और उसे भविष्य के लिए अपने पास सुरक्षित करके रख सकते हैं।

यूपी विवाह अनुदान योजना में आवेदन पत्र की स्थिति कैसे देखें?

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना की आधिकारिक वेबसाइट जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर आपके सामने होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • आप अपने आवेदन फॉर्म की स्थिति को जानना चाहते हैं।
  • तो होम पेज पर दिए गए आवेदन पत्र की स्थिति (आवेदन पत्र की स्थिति पता करने हेतु यहां क्लिक करें) विकल्प को चुनना है।
  • इस विकल्प पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने एक और पेज खोलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको लॉगइनफॉर्म दिखाई देगा।
  • आपको उस लॉगइन फॉर्म में पूछी गई जानकारी को भरना होगा।
  • और फिर लॉगइन बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आपके सामने आवेदन की स्थिति खुलकर आ जाएगी।

आवेदन पत्र प्रिंट कैसे करें?

राज्य के जो इच्छुक आवेदक अपने आवेदन पत्र को पुनः प्रिंट करना चाहते हैं नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें:-

  • सबसे पहले उन्हें उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर आपके सामने होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • होम पेज पर आपको एक आवेदन पत्र प्रिंट (आवेदन पत्र पुनः प्रिंट करने हेतु यहां क्लिक करें) का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको इसी विकल्प पर क्लिक करना है।
  • विकल्प पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने अगला पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज में आपके सामने एक लॉगइन फॉर्म होगा।
  • इस लॉगिन में पूछी गई जानकारी जैसे एप्लीकेशन नंबर, बैंक अकाउंट नंबर और पासवर्ड आदि को भरना होगा।
  • इसके बाद आप को दिए गए कैप्चा को डालना है।
  • लॉगइन बटन पर क्लिक करना है।
  • बटन पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने आवेदन पत्र खुलकर आ जाएगा।
  • अब आप अपने आवेदन पत्र को प्रिंट कर सकते हैं।

Helpline Contact

  • सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए संपर्क सूत्र -18004190001
  • अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी शासनादेश संपर्क सूत्र – 18001805131
  • अल्पसंख्यक वर्ग श्रेणी शासनादेश संपर्क सूत्र – 0522-2286199

Conclusion

राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना का शुभारंभ किया गया। इस योजना को शुरुआत करने का मुख्य उद्देश्य बेटियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है।और लड़कियों के प्रति लोग ही नकारात्मक सोच को बदलना है। इस योजना का लाभ केवल अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, पिछड़ा वर्ग, आदि परिवार ही उठा सकते हैं। इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले परिवारों की वार्षिक आय ₹46080 से कम होनी चाहिए।तथा शहरी क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों की वार्षिक आय ₹56460 से कम होनी चाहिए। इस योजना के तहत शादी के समय लड़की की आयु 18 वर्ष होनी चाहिए। तथा लड़के की आयु 21 वर्ष होनी चाहिए। अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाने के लिए इसमें आवेदन करना चाहते हैं। आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

दोस्तों, आज के इस आर्टिकल में हमने आपको उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना 2020 के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की| हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा आज का यह आर्टिकल अवश्य ही पसंद आएगा| यदि आप इस आर्टिकल से संबंधित किसी भी प्रकार का कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भी पूछ सकते हैं| हम अवश्य ही आपके प्रश्नों का उत्तर प्रदान करेंगे| हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद|

Read more:-

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2020: Click here

Leave a comment