राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन | PM Modi Health ID Card योजना |

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन | डिजिटल हेल्थ मिशन | डिजिटल स्वास्थ्य मिशन | राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन | नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन | PM Modi Health ID Card योजना | पीएम मोदी डिजिटल हेल्थ कार्ड स्कीम हेल्थ आईडी कार्ड |

दोस्तों आज के इस आर्टिकल के में हम आपको उस मिशन के बारे में बताने जा रहे हैं | हाल ही में भारत वासियों की स्वास्थ्य सेवा में समृद्धि लाने के उद्देश्य से शुरू किया गया है | इस मिशन के तहत देशवासियों को एक हेल्थ आईडी कार्ड issue किया जाएगा | जिसमें आपके स्वास्थ्य से जुड़ी प्रत्येक जानकारी इलेक्ट्रॉनिक रूप से सुरक्षित रखी जाएगी | यदि आप इस योजना से जोड़ी संपूर्ण जानकारी जानना चाहते हैं | तो आप हमारे इस आर्टिकल के साथ अंत तक जुड़े रहिए |

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन(NHDM)

भारत के 74 वें स्वतंत्रता दिवस पर श्री नरेंद्र मोदी जी ने राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन को शुरू करने की घोषणा की | इस mission को NDHM {National Health Digital Mission} का नाम दिया गया है | इस मिशन को देशवासियों की स्वास्थ्य सेवाओं में समृद्धि लाने के उद्देश्य हेतु शुरू किया गया है |

प्रत्येक हेल्थ आईडी कार्ड के लिए एक विशेष पहचान नंबर आवंटित किया जाएगा | इस विशेष पहचान नंबर के जरिए मरीज की समस्त स्वास्थ्य जानकारी इलेक्ट्रॉनिक रूप से सुरक्षित रखी जाएगी | इस हेल्थ आईडी कार्ड पर व्यक्ति का नाम, पता, बीमारी, दवा, हॉस्पिटल में एडमिशन की तिथि, हॉस्पिटल का नाम, डिस्चार्ज डेट एवं डॉक्टर से जुड़ी सारी जानकारी सम्मिलित की जाएगी |

हेल्थ आईडी कार्ड के माध्यम से मरीज का इलाज कराने में आसानी होगी | शीघ्रता से जान पाएंगे कि उसको क्या बीमारी है जिससे डॉक्टरों को बीमारी जानने में वक्त नहीं लगेगा | वह सही समय पर उसका इलाज कर पाने में समर्थ होंगे | राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन देश की स्वास्थ्य सेवाओं का विकास करने के लिए की है |

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन की विशेषताएं

  • इस मिशन के अंतर्गत आपको एक हेल्थ आईडी कार्ड अर्थात विशेष स्वास्थ्य पहचान पत्र प्रदान किया जाएगा |
  • इस विशेष स्वास्थ्य पहचान पत्र के लिए एक विशेष पहचान नंबर दिया जाएगा |
  • इसमें आपके स्वास्थ्य से संबंधित सभी जानकारी दर्ज की जाएगी |
  • इस हेल्थ आईडी कार्ड की मुख्य विशेषता यह है कि इसमें स्वास्थ्य संबंधित सारी जानकारी एक ही जगह पर मौजूद होगी |
  • एक ही जगह पर जानकारी हने के मरीज तथा इलाज करने वाले डॉक्टर दोनों को ही आसानी रहेगी |
  • इसमें सभी जानकारी को इलेक्ट्रॉनिक रूप से सुरक्षित रखा जाएगा |
  • यह कार्ड एक हेल्थ अकाउंट की तरह कार्य करेगा |
  • स्वास्थ्य से संबंधित सभी जानकारी इस कार्ड में एक ही जगह पर उपस्थित होने के कारण चिकित्सकों को इलाज करने में आसानी होगी |

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के विशेष बिंदु

इस स्वास्थ्य मिशन के विशेष बिंदु क्या है? यह जानकारी नीचे दी गई है

  • हेल्थ आईडी कार्ड
  • व्यक्तिगत स्वास्थ्य रिकॉर्ड
  • ई-फार्मेसी
  • टेलीमेडिसिन
  • डिजीडॉक्टर

Privacy Of Data

  • Privacy of Data इस National Digital Health Mission का एक बहुत ही महत्वपूर्ण पहलू है |
  • इस मिशन के अंतर्गत जारी किए गए हेल्थ आईडी कार्ड में जो भी जानकारी दर्ज की जाएगी वह पूरी तरह से safe तथा व्यक्तिगत रहेगी |
  • यह जानकारी आपकी permission के बिना किसी और को share नहीं होगी |
  • अर्थात इस हेल्थ आईडी कार्ड में आपकी स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारी पूरी तरह से secure रहेगी |

हेल्थ आईडी कार्ड कैसे बनाया जाएगा?

इस डिजिटल हेल्थ मिशन का हेल्थ आईडी कार्ड किस प्रकार बनाया जाएगा यह जानकारी हम आपको नीचे दिए गए बिंदुओं में बताएंगे-

  • इस हेल्थ आईडी कार्ड के लिए एक unique iD बनाई जाएगी |
  • हेल्थ आईडी कार्ड के लिए आपका मोबाइल नंबर तथा आधार कार्ड का उपयोग किया जाएगा |
  • उसके पश्चात इस आईडी में आपके स्वास्थ्य से जुड़ी संपूर्ण जानकारी add की जाएगी |
  • यह आईडी बनाना अनिवार्य नहीं है |
  • यदि आपको यह आईडी नहीं बनवाना चाहते हैं तो आप इनकार भी कर सकते हैं |
  • आपके इस निर्णय का आप के उपचार पर किसी भी प्रकार का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा |

राष्ट्रीय डिजिटल हेल्थ मिशन किसके द्वारा तैयार किया जाएगा?

इस स्वास्थ्य मिशन को NHA अर्थात नेशनल हेल्थ अथॉरिटी द्वारा तैयार किया जाएगा क्योंकि यह अथॉरिटी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का ही एक हिस्सा है|

कहां-कहां राष्ट्रीय डिजिटल हेल्थ मिशन को लागू किया जा चुका है?

इस राष्ट्रीय डिजिटल हेल्थ मिशन को कुछ स्थानों पर लागू किया जा चुका है आइए जानते हैं कि इस मिशन को किन-किन स्थानों पर लागू किया जा चुका है-

  • चंडीगढ़
  • लद्दाख
  • दादर -नगर हवेली
  • दमन एवं दीव
  • पांडिचेरी
  • अंडमान- निकोबार
  • लक्षदीप
  • उपरोक्त बताए गए स्थानों पर राष्ट्रीय डिजिटल हेल्थ मिशन को शुरू किया जा चुका है|
  • शेष स्थानों पर भी यह डिजिटल हेल्थ मिशन जल्दी ही शुरू कर दिया जाएगा|

सरकार द्वारा किस प्रकार रखी जाएगी निगरानी?

  • नेशनल हेल्थ अथॉरिटी(NHA) के चीफ एग्जीक्यूटिव इंदु भूषण ने यह बताया है कि राष्ट्रीय डिजिटल हेल्थ मिशन की पूरी निगरानी सरकार के द्वारा ही रखी जाएगी|
  • सरकार ही हेल्थ आईडी और डॉक्टरों का आवंटन करेगी
  • निजी अस्पताल एवं चिकित्सा संस्थान ही पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड और इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रिकॉर्ड सरकारी निर्देशों के अनुसार ही तैयार करेंगे
  • मरीज की स्वास्थ्य संबंधित जानकारी की एक कॉपी डॉक्टर के पास तथा एक कॉपी खुद के पास रहेगी इस प्रकार सरकार इस पर पूरी निगरानी रखेगी |

Conclusion-

जिसका मुख्य उद्देश्य भारत की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाना है | सरकार द्वारा एक विशेष स्वास्थ्य पहचान पत्र जारी किया जाएगा | प्रत्येक स्वास्थ्य पहचान पत्र के लिए एक iD प्रदान की जाएगी | इस हेल्थ आईडी कार्ड में आपके स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी save की जाएगी |

इस योजना के तहत प्रत्येक व्यक्ति का data इलेक्ट्रॉनिक रूप में सुरक्षित रखा जाएगा | इस आईडी कार्ड के द्वारा मरीज की सभी जानकारी एक ही जगह पर मौजूद रहेगी | यदि आप चाहें तो आप इनकार भी कर सकते हैं | अतः यह योजना संपूर्ण रुप से देशवासियों के लिए स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए शुरू की गई है |

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना

Leave a comment