प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना 2021 : Online Registration & Form

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना क्या है | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लिस्ट | गरीब कल्याण रोजगार योजना रजिस्ट्रेशन | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना 2020 meaning | प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना | Garib Kalyan Rojgar Apply | गरीब कल्याण रोजगार अभियान

Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana : प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान को हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने शुरु करने की घोषणा की है हमारे देश के वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण जी के द्वारा देश के प्रवासी मजदूरों की मदद करने के लिए यह ठोस कदम उठाया गया है| श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 20 जून को इस योजना को शुरू कर दिया गया है देश में चल रहे कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से लॉकडाउन के दौरान जो प्रवासी मजदूर दूसरे राज्य से अपने घर वापस लौट कर आए हैं उनके पास कोई कार्य नहीं है उन्हें इस अभियान के अंतर्गत काम दिया जाएगा और इससे उनको आर्थिक मजबूती मिलेगी यह प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना अभियान 6 राज्यों में चलाया जा रहा है|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार के लिए कैसे आवेदन दे इसको ऑनलाइन फॉर्म कैसे भरें इसमें रजिस्ट्रेशन कैसे करें मोदी गरीब रोजगार कल्याण योजना के बारे में कैसे जाने हम आपको अपने इस लेख के जरिए बताएंगे कृपया सारी योजना समझने के लिए आप हमारे लेख को अंत तक पढ़े|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना क्या है?

माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा गरीब कल्याण रोजगार योजना को शुरू किया गया है इस योजना के तहत देश के ग्रामीण क्षेत्रों के मजदूरों और प्रवासी मजदूरों को अधिक लाभ मिलेगा योजना के जरिए 6 राज्यों के 116 जिलों में 125 दिनों तक प्रवासी मजदूरों की सहायता के लिए मिशन मोड में चलेगा हमारे देश के वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण का कहना है कि हम 125 दिनों के अंदर ही सरकार की है योजना और लगभग 25 योजनाओं को 116 जिलों तक पहुंच जाएंगे|

इन सभी योजनाओं का सरकार गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत मजदूरों के संपर्क में लाएगी हम इन योजनाओं को 125 दिनों के भीतर मजदूरों तक पहुंचाएंगे इस योजना का लाभ उठाने के लिए देश के सभी अलग-अलग जगहों से आए हुए मजदूरों को इस योजना में कैसे आवेदन करना है यह हम आपको बताएंगे इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के अंतर्गत लगभग सभी खर्च 50000 करोड़ रुपए सरकार द्वारा किया जाएगा|

गरीब कल्याण रोजगार का उद्देश्य क्या है?

दोस्तों आइए जानते हैं गरीब कल्याण रोजगार के क्या उद्देश्य है हमारे देश के वित्त मंत्री का कहना है कि जो प्रवासी मजदूर अपने राज्य लौट सके हैं अब वर्तमान में उनके पास कोई काम नहीं है उनको काम देने के लिए जिस योजना का निर्माण किया गया है गरीब कल्याण रोजगार का उद्देश्य यह है कि जिस प्रवासी मजदूरों के पास काम नहीं है उनको काम देना उनको रोजगार देना जिससे उनकी आर्थिक स्थिति बेहतर हो सके|

जैसा की आप सभी को पता है कि पूरे भारत में कोरोनावायरस का अभी भी संकट बना हुआ है जिस कारण देश में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है लोग अपने घरों से बाहर निकलते हुए हिचक रहे हैं डर रहे हैं और डरना  लाजमी  है क्योंकि यह है वायरस इतना घातक है सबसे ज्यादा असर गरीब परिवारों को हुआ है उनकी आर्थिक स्थिति बहुत संकट में है|

इसीलिए वित्त मंत्री जी ने यह घोषणा की है कि गरीबों के लिए यह प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना कल्याणकारी साबित होगा| रोजगार बंद होने की वजह से वह सारे प्रवासी मजदूर अपने अपने गांव राज्य लौट आए हैं अब उनकी जीवनशैली काफी अस्त-व्यस्त हो गई है इनकी जीवन शैली को सुधारने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान चलाया जा रहा है जिससे मजदूर कार्य करके अपने परिवार का भरण पोषण कर सकें|

एक परिवार एक नौकरी योजना

Key Highlights Of Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana

अभियान का नामप्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना
इनके द्वारा घोषणा की गयीदेश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा
इनके द्वारा शुरू की जाएगीदेश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 
लॉन्च की तारीक20 जून सुबह 11 बजे
लाभार्थीदेश के प्रवासी मजदूर
उद्देश्यरोजगार के अवसर प्रदान करना
योजना अवधि और समय125 दिन

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान की कॉन्फ्रेंस

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना को स्टार्ट करने के लिए 20 जून को एक मंत्रियों की कॉन्फ्रेंस की गई है इस कॉन्फ्रेंस में हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के साथ कृषि विभाग के मिनिस्टर नरेंद्र सिंह तोमर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी बिहार के मुख्यमंत्री माननीय कुमार जी एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और उड़ीसा के मुख्यमंत्री प्रताप जैन और केंद्र सरकार मान्य मंत्री गण आदि ने प्रतिभाग किया मंत्री गण में कोरोनावायरस की वजह से देश के प्रवासी मजदूर श्रमिक को की परेशानियों को समझा और उनको कितनी असुविधा है|

इन सभी असुविधाओं को देखते हुए ही प्रधानमंत्री जी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना को शुरू करने का निर्णय लिया | प्रधानमंत्री जी के द्वारा 20 जून को 11:00 बजे बिहार के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री की मौजूदगी में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत बिहार के खगड़िया जिले के बेलदौर प्रखंड के telihaar गांव से की गई|

पीएम गरीब कल्याण रोजगार योजना

देश के कृषि मंत्री ने इस कांफ्रेंस में कहा कि जैसा कि आप सब जानते हैं भारत देश पूरी तरह कोरोनावायरस के संकट से गुजर रहा है इसी स्थिति को देखते हुए देश में लॉकडाउन किया गया है जिससे लोग अपने घरों के बाहर केवल जरूरी कार्यों की वजह से ही निकले इस स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री जी ने मजदूरों और गरीब परिवारों की किसानों आदि के लिए 70000 करोड रुपए का पैकेज शुरू किया है देश के मजदूर कामगार रोजगार के लिए अन्य राज्य में रह रहे थे पर जब रोजगार बंद हो गया और कुरान संकट हावी हो गया तो वह सब लोग अपने घर वापस लौट आए हैं और अपने क्षेत्र में रहकर कार्य करना चाहते हैं तो उन्हें गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत क्षेत्र में और रूचि के अनुसार रोजगार प्रदान किया जाएगा जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के नए रास्ते बनेंगे|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की कुछ मुख्य विशेष बातें

योजना का लाभराशि / लाभ
राशन कार्डधारक (80 करोड़ लोग)अतिरिक्त रूप से 5 किलो राशन मुफ्त
कोरोना योद्धा (डॉक्टर, नर्स, स्टाफ)50 लाख का बीमा
किसान (पीएम किसान योजना में पंजीकृत)2000 / – (अप्रैल प्रथम सप्ताह में)
जन धन खाताधारक (महिला)500 / – अगले तीन महीने
विधुर, गरीब नागरिक, विकलांग, वरिष्ठ नागरिक1000 / – (अगले तीन महीने के लिए)
उज्जवला योजनाअगले तीन महीने तक सिलेंडर फ्री
स्वयं सहायता समूहों10 लाख अतिरिक्त ऋण मिलेगा
निर्माण मजदूरउनके लिए 31000 Cr Fund का उपयोग किया जाएगा
ईपीएफअगले तीन महीने के लिए सरकार द्वारा 24% (12% + 12%) का भुगतान किया जाएगा

PM Gareeb Kalyan Rojgaar Yojana New Update

प्रधानमंत्री जी ने घोषणा की है कि इस अभियान के अंतर्गत 50000 करोड रुपए के खर्च केंद्र सरकार करेगी इस अभियान को 125 दिनों के लिए 6 राज्यों के 116 जिलों में चलाया जाएगा इस योजना के अंतर्गत 25 कार्य प्रमुख रूप से चुने गए हैं इस चुने गए कार्यों से रोजगार तेजी से बढ़ेगा 125 दिनों के अभियान के अंतर्गत देश के मजदूरों को रोजगार दिया जाएगा बिहार के मुख्यमंत्री जी का यह कहना है कि गरीब कल्याण रोजगार अभियान बिहार  मैं बाहर से आए प्रवासी मजदूरों को काफी राहत मिलेगी|

गरीब कल्याण रोजगार योजना में राज्यों की सूची

क्रमांक संख्याराज्यों का नामजिलेआकांक्षात्मक जिले
1बिहार3212
2उत्तर प्रदेश315
3मध्य प्रदेश244
4राजस्थान222
5ओडिशा41
6झारखण्ड33
कुल जिले11627

मोदी गरीब रोजगार योजना 2021

मोदी जी की है गरीब कल्याण रोजगार योजना 2021 के अंतर्गत बिहार के 38 में से 32 जिलों का चयन किया गया है इस योजना के अंतर्गत विशेष रूप से गांव वाले क्षेत्रों के विकास के कार्य से 25 विकास कार्य जैसे आंगनबाड़ी केंद्र सामुदायिक केंद्र कृषि सड़क आवास बागवानी जिला साफ-सफाई जल संरक्षण आदि पर जोर दिया जाएगा गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत प्रधानमंत्री जी द्वारा यह घोषणा की गई है कि पंचायत भवन जहां नहीं है वहां पंचायत भवन का निर्माण किया जाएगा इस अभियान में आधुनिक गांवों को भी इसके साथ जोड़ा जाएगा|

इस अभियान के अंतर्गत बिहार राजस्थान मध्य प्रदेश उड़ीसा उत्तर प्रदेश झारखंड आदि छह राज्यों को इस योजना से 116 जिले के मजदूरों श्रमिकों और कामगारों महिलाओं को घर के पास ही कार्य दिया जाएगा जिससे वह अपना जीवन यापन कर सकें और बिहार को रोजगार मिल सके|

गरीब कल्याण रोजगार योजना में 25 कार्यों की सूची

क्रमांक संख्याकार्य / गतिविधि
1सामुदायिक स्वच्छता केंद्र (CSC) का निर्माण
2ग्राम पंचायत भवन का निर्माण
314 वें एफसी फंड के तहत काम करता है
4राष्ट्रीय राजमार्ग कार्यों का निर्माण
5जल संरक्षण और कटाई का काम करता है
6कुओं का निर्माण
7वृक्षारोपण का काम करता है
8बागवानी
9आंगनवाड़ी केंद्रों का निर्माण
10ग्रामीण आवास कार्यों का निर्माण
11ग्रामीण कनेक्टिविटी का काम करता है
12ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन कार्य करता है
13खेत तालाबों का निर्माण
14पशु शेड का निर्माण
15पोल्ट्री शेड का निर्माण
16बकरी शेड का निर्माण
17वर्मी-कम्पोस्ट संरचनाओं का निर्माण
18रेलवे
19रुर्बन
20पीएम कुसुम
21भारत नेट
22CAMPA का वृक्षारोपण
23पीएम उर्जा गंगा प्रोजेक्ट
24लाइवलीहुड के लिए केवीके प्रशिक्षण
25जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (DMFT) काम करता है

गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2021 का नोडल मंत्रालय

दोस्तों आइए जानते हैं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान का कार्यान्वयन भारत सरकार के ग्रामीण विकास विभाग द्वारा कैसे किया जा रहा है इस अभियान के तहत मंत्रिमंडल सचिव की अध्यक्षता में सचिवों की एक संगठन बनाया गया है जो इस अभियान की देखरेख करेंगे सेंट्रल नोडल ऑफिसर जिले में निर्धारित किए गए हैं जो इस बात का ध्यान रखेंगे कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान सही तरीके से दिशा निर्देशों के अनुसार चल रहा है या नहीं.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना की मुख्य विशेषताएं

  • कोरोना संकट के समय लॉकडाउन की स्थिति के दौरान प्रवासी मजदूर अपने घर वापस लौट कर आ गए हैं उन्हें इस अभियान के जरिए रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत सबसे ज्यादा लाभ ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को होगा
  • देश के 6 राज्यों के 116 जिलों में 125 दिन तक यह रोजगार अभियान चलाया जाएगा
  • श्रमिक लोग इस कार्य में मिशन मोड की तरह काम करेंगे
  • इस अभियान के अंतर्गत एक 16 जिलों में कार्य दिया जाएगा
  • आपको हम बताते हैं कि इन छह राज्यों के 116 जिलों में करीब 6700000 प्रवासी मजदूर घर वापसी पर है
  • बिहार में 32 उत्तर प्रदेश में एकत्रित मध्य प्रदेश में 24 राजस्थान में 22 उड़ीसा और झारखंड में 3 जिले शामिल है
  • केंद्र सरकार ने इस योजना का बजट 50000 करोड़ रुपए रखा है
  • इस अभियान में जो कार्य दिए जाएंगे वह इस प्रकार है नेशनल हाईवे वर्क जल संरक्षण और सिंचाई कुएं की खुदाई पौधारोपण एग्रीकल्चर आगनबाडी केंद्र पीएम आवास योजना ग्रामीण बीएफ ग्राम सड़क योजना रेलवे श्यामा प्रसाद मुखर्जी पीएम कुसुम भारत नेट के फाइबर ऑप्टिक बिछाने जल जीवन मिशन आदि के काम कराए जाएंगे|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के लाभ

इस योजना से देश के प्रवासी मजदूरों को लाभ प्रदान किया जाएगा 

  • पीएम मोदी जी ने इस योजना का शुभारंभ किया इस योजना के द्वारा आत्मनिर्भर भारत योजना के अंतर्गत क्षेत्रीय उद्योगों को बढ़ावा दिया जा रहा है
  • इस योजना के साथ सबका समन्वय बना रहे इसके लिए 12 मंत्रालय एक साथ मिलकर कार्य कर रहे हैं इसमें ग्रामीण विकास पंचायती राज सड़क परिवहन भी शामिल है 
  • मजदूरों को उनके रुचि और उनके कार्य कुशलता के आधार पर कार्य दिया जाएगा
  • इसे प्रवासी श्रमिकों की आर्थिक हालत सुधरेगी 
  • देश में और राज्यों में बेरोजगारी कम होगी तथा देश का विकास अधिक होगा.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2021 के जरूरी दस्तावेज (पात्रता)

दोस्तों जानते हैं कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान में हम कैसे पात्र बन सकते हैं आइए इन के लिए किन महत्वपूर्ण  दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी जानते हैं –

  • आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष या उससे ज्यादा होनी चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • आयु प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र

Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana Web Portal

इस योजना के तहत प्रवासी मजदूरों को ऑनलाइन आवेदन के लिए केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज्य मंत्री माननीय नरेंद्र सिंह तोमर जी के द्वारा 26 जून को दिल्ली में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा गरीब कल्याण रोजगार ऑनलाइन वेब पोर्टल लांच किया जिसमें केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर जी ने कहा कि कोरोनावायरस की वजह से स्थिति के कारण मूल्य स्थानों पर प्रवासी मजदूर लौट गए हैं उन प्रवासी मजदूरों को इस अभियान के तहत सरकार 4 महीने तक का रोजगार प्रदान करेगी. यह योजना 6 राज्यों में 116 जिलों में 50000 करोड़ रुपए की लागत से रोजगार प्रदान किया जाएगा और इस पर नोडल अधिकारी निगरानी बनाए रखेंगे|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना का कार्यान्वयन

  • गरीब कल्याण रोजगार योजना के अभियान की प्रगति सेंट्रल dash बोर्ड तथा मोबाइल ऐप के माध्यम से ट्रक की जाएगी।
  • आपके  मोबाइल के मोबाइल ऐप के माध्यम से फीडबैक भी अपलोड किया जा सकेगा। जो कि सरकार द्वारा जल्द ही गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध होगा।
  • सेंट्रल नोडल ऑफिसर को खुद को आधिकारिक वेबसाइट पर रजिस्टर कराना होगा।
  • राज्य का नोडल ऑफिसर तथा जिले के नोडल ऑफिसर को भी अपने आप को आधिकारिक वेबसाइट पर रजिस्टर कराना होगा। कहने का तात्पर्य यह है कि इस अभियान से जुड़े हर एक अधिकारी को अपने आप को रजिस्टर कराना होगा।
  • सभी विभागों को अपनी प्रगति का आंकड़ा आधिकारिक वेबसाइट पर जरूर अपलोड करना होगा जिससे सरकार यह जांच सके कि काम कितना हुआ है और किस-किस विभाग में किस प्रकार कार्य किया गया है.

गरीब कल्याण रोजगार अभियान में ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

दोस्तों आइए जानते हैं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना में ऑफलाइन आवेदन कैसे करें इसकी प्रक्रिया को समझते हैं हमारे आर्टिकल के साथ जुड़े रहे:-

  • सर्वप्रथम आपको अपने जिले के क्षेत्रीय श्रमिक विभाग में जाना होगा।
  • अब आपको वहा से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान का आवेदन फॉर्म लेना होगा।
  • आपको आवेदन फॉर्म को ध्यान पूर्वक भरना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म से अटैच करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको ही आवेदन फॉर्म क्षेत्रीय श्रमिक विभाग में जमा करना होगा।
  • अब आपको एक रेफरेंस नंबर दिया जाएगा।
  • अब आपको इस रेफरेंस नंबर को संभाल कर रखना होगा। इस रेफरेंस नंबर के माध्यम से आप अपना एप्लीकेशन स्टेटस देख सकते हैं।
  • रेफरेंस नंबर के द्वारा आप अपना स्टेटस चेक कर सकते हैं जिससे आपको पता चल जाएगा कि आपका आवेदन फॉर्म की प्रक्रिया कहां तक पहुंची आप का चुनाव हुआ है या नहीं आपको कौन सा कार्य दिया जाने वाला है l आपको यह सब जानकारी मिल जाएगी|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार का ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने गरीब कल्याण रोजगार योजना का होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अप्लाई नऊ के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल कर आएगा।
  • आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान में आवेदन  हो जाएगा|

दोस्तों आप इस प्रकार अपना ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं इस योजना में आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीके से अपना आवेदन कर सकते हैं|

Conclusion

दोस्तों हमने आपको प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी दी इसमें ऑनलाइन ऑफलाइन दोनों तरीके से आवेदन की प्रक्रिया आप को समझाएं यह किन राज्यों में योजना है आपको यह भी जानकारी दी आपको यदि हमारा आर्टिकल पसंद आया हो तो ऐसे ही और आर्टिकल पढ़ने के लिए हमारे पेज से जुड़े रहे|

For more info : Click here

Leave a comment