एमपी भूलेख: मध्य-प्रदेश खसरा-खतौनी नकल ,भू -नक्शा मध्य प्रदेश, Registration, उद्देश्य

एमपी भूलेख खसरा खतौनी, भू नक्शा एमपी, भूलेख मध्य प्रदेश 2019-20, भूलेख मध्यप्रदेश 2019-20, खसरा खतौनी 2019, भू नक्शा मध्यप्रदेश 2020, खसरा खतौनी 2019 2020, mp.bhulekh.gov.in free

मध्य-प्रदेश भूलेख पोर्टल

राज्य सरकार नागरिकों को सारी सुविधा देने के लिए डिजिटलीकरण को बढ़ाने का काम कर रही है| जिससे कि आपको सारी सुविधाओं का लाभ घर बैठे ही प्राप्त कर सकेंगे | मध्य प्रदेश सरकार ने एमपी भूलेख के नाम से वेबसाइट लांच की है| इस वेबसाइट के माध्यम से अब मध्य प्रदेश के नागरिक जमीन से संबंधित संपूर्ण विवरण आसानी से देख पाएंगे|

इस एमपी भूलेख पोर्टल में आपके सारे जमीनी विवरण की जानकारी जैसे – खाता खतौनी नंबर, भू नक्शा ,जमीन का ब्यौरा, जमीन के कागजात आदि जानकारी उपलब्ध होती है| यह जानकारी ऑनलाइन दर्ज की जाती है| जिससे कि कोई भी आप की जमीन पर मालिकाना हक नही जता पाएगा| क्योंकि अब यह सारी जानकारी आप राजस्व विभाग में ऑनलाइन देख पाएंगे|

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपसे MP Bhulekh से संबंधित सारी जानकारी साझा करेंगे| आइए देखते हैं कि आप इस पोर्टल का लाभ लेकर किस प्रकार ले सकते हैं| किस प्रकार आप ऑनलाइन अपने लैंड रिकॉर्ड तथा नक्शे को देख सकते हैं| विस्तृत जानकारी के लिए आप हमारे इस आर्टिकल से अंत तक जुड़े रहिए |

एमपी भूलेख

एमपी भूलेख मध्य-प्रदेश खसरा-खतौनी-नकल, भू-नक्शा

जैसा कि आप जानते हैं कि पहले लोगों को अपने जमीन से जुड़े किसी भी काम के लिए राजस्व विभाग या अन्य सरकारी दफ्तरों में चक्कर लगाने पड़ते थे| वहां जाकर भी उन्हें कोई जानकारी या दस्तावेज आसानी से प्राप्त नहीं होते थे| जिस कारण आम लोगों को काफी समस्या होती थी| सरकार द्वारा इन्हीं सब समस्याओं के निवारण हेतु एमपी भूलेख की ऑफिशियल साइट को लांच किया गया है|

MP Bhulekh ऑफिशल साइट लॉन्च होने के बाद से ही सभी जानकारी ऑनलाइन दर्ज की जाने लगी है| अतः वे सारे उम्मीदवार जिनकी अपनी जमीनें हैं|उनके सारे विवरण को ऑनलाइन वेबसाइट में रजिस्टर कर दिया गया है| एमपी भूलेख का सबसे बड़ा फायदा यह है कि कोई भी व्यक्ति आप की जमीन पर मालिकाना हक नहीं जता सकेगा| क्योंकि अब आपके सारे दस्तावेज ऑनलाइन दर्ज किए जाएंगे|

मध्य-प्रदेश खसरा-खतौनी नकल, भू-नक्शा के लाभ

  • एमपी भूलेख के माध्यम से अब आप अपने जमीन विवरण को ऑनलाइन देख सकते हैं|
  • अब आपको जमीनी कागजात के लिए किसी भी सरकारी दफ्तर में जाने की आवश्यकता नहीं होगी
  • ऑनलाइन सुविधा होने के कारण भ्रष्टाचार में कमी आएगी
  • जो सरकारी कर्मचारी, पटवारी या अन्य विभाग के जो लोग रिश्वत लेते थे इससे उसमें कमी आएगी
  • उम्मीदवार घर बैठे ही अपने जमीनी विवरण को ऑनलाइन देख सकते हैं|
  • उम्मीदवार अपने जमीनी नक्शे को ऑनलाइन डाउनलोड करके भी निकाल सकते हैं|
  • MP Bhulekh पोर्टल के माध्यम से भूमि से संबंधित जानकारी आपको एक ही जगह पर प्राप्त हो जाएगी

एमपी भूलेख पोर्टल का उद्देश्य

  • भ्रष्टाचार को खत्म करना MP Bhulekh पोर्टल का प्रमुख उद्देश्य है|
  • एमपी भूलेख पोर्टल के तहत सभी नागरिकों को घर बैठे ही जमीन से संबंधित संपूर्ण जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध कराई जाती है|
  • यह एमपी भूलेख पोर्टल डिजिटलीकरण को बढ़ावा देता है|
  • इस पोर्टल के माध्यम से आप अपनी जमीन का संपूर्ण विवरण एक ही जगह पर देख पाएंगे|
  • लोगों के समय की बचत एमपी भूलेख पोर्टल के उद्देश्यों में से एक है|
  • आप की जमीन पर कोई भी अन्य व्यक्ति कब्जा नहीं कर पाएगा
  • इस पोर्टल के तहत जमीन के सभी दस्तावेज ऑनलाइन दर्ज किए जाएंगे|

एमपी भूलेख हाइलाइट्स

आर्टिकलएमपी भूलेख
सरकारमध्य प्रदेश
विभागराजस्व विभाग
लाभार्थीराज्य के नागरिक
उद्देश्यऑनलाइन सारी सुविधाएँ प्राप्त करना
आधिकारिक वेबसाइटmpbhulekh.gov.in

एमपी भूलेख पोर्टल में पब्लिक रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

इस एमपी भूलेख में पब्लिक रजिस्ट्रेशन करने के लिए नीचे दिए गए steps को follow करें-

  • सबसे पहले आप एमपी भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको PUBLIC USER केऑप्शन पर क्लिक करना होगा
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस नए पेज पर आपको पब्लिक यूजर रजिस्टर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा
  • अब आपके सामने एक आवेदन फॉर्म खुल कर आएगा
  • आवेदन फॉर्म में पूछी गई समस्त जानकारी जैसे लॉगइन आईडी, पति या पिता का नाम, पता, मोहल्ला, लैंडमार्क, राज्य ,तहसील, पिन कोड आदि समस्त जानकारी दर्ज करनी होगी
  • अब सेंड ओटीपी के ऑप्शन पर क्लिक करें
  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा
  • आपको इस ओटीपी को दर्ज करके वेरीफाई करना होगा
  • इसके पश्चात पंजीकृत पर क्लिक करें
  • अब आप भूलेख पोर्टल पर लॉगइन कर सकते हैं
  • इस प्रकार एमपी भूलेख पोर्टल पर आप का पंजीकरण हो जाएगा|

एमपी भू-अभिलेख प्रतिलिपि निकालने/डाउनलोड करने की प्रक्रिया

यदि आप अपने भू अभिलेख की प्रतिलिपि निकालना चाहते हैं तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें-

  • सबसे पहले एमपी भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट पर लॉगिन करें
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आपको बहुत सारे options दिखाई देंगे
  • आपको भूलेख प्रतिलिपि के option पर क्लिक करना होगा
  • अब आपको कुछ जानकारी जैसे जिला, तहसील, गांव तथा खसरा नंबर डालना होगा
  • इसके बाद विवरण देखें के ऑप्शन पर क्लिक करें
  • अब आप की भरी हुई जानकारी के अनुसार आपके समक्ष संपूर्ण विवरण आ जाएगा
  • अब यदि आप चाहें तो आप इस भूलेख प्रतिलिपि को डाउनलोड भी कर सकते हैं|

एमपी भूलेख खसरा-खतौनी ऑनलाइन चेक करने की प्रक्रिया

यदि आप खसरा खतौनी को ऑनलाइन चेक करना चाहते हैं तो आपको नीचे दिए गए steps को follow करना होगा-

  • सबसे पहले एमपी भूलेख पोर्टल की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • सामने खुले होम पेज पर फ्री सर्विस के ऑप्शन पर क्लिक करें
  • उसके पश्चात खसरा बी-1 नक्शा प्रतिलिपि के ऑप्शन पर क्लिक करें
  • अब आपके समक्ष एक नया पेज खुल कर आएगा
  • आपको इस पेज में पूछी गई सभी जानकारी दर्ज करनी होगी
  • सभी जानकारी भरने के पश्चात आपको एक कैप्चा कोड दिया होगा उसे दर्ज करें
  • इसके पश्चात विवरण देखें के ऑप्शन पर क्लिक करें
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर भू नक्शा आ जाएगा
  • यदि आप चाहें तो आप इसका प्रिंट आउट भी निकाल सकते हैं|

एमपी भूलेख किश्तबंदी-नक्शा देखने की प्रक्रिया

यदि आप भूलेख पोर्टल के माध्यम से किश्तबंदी नक्शा देखने की प्रक्रिया जानना चाहते हैं | अतः नीचे दिए गए steps को follow करें-

  • सबसे पहले एमपी भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाइए
  • अब आपके समक्ष होमपेज खुलकर आएगा
  • आपको इस पेज में पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी
  • इसके बाद निर्धारित स्थान पर आपको प्लॉट नंबर, जमीन नंबर को दर्ज करना होगा
  • अब submit के बटन पर क्लिक करें
  • अब आप स्क्रीन पर भूमि का क्षेत्रफल, खसरा नंबर, भूमि का प्रकार, धारक का नाम आदि जानकारी देख सकते हैं
  • यदि आप चाहें तो आप इस नक्शे को डाउनलोड भी कर सकते हैं|

Diversion Intimation देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको एमपी भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा
  • आपको अब पब्लिक यूजर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा
  • आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस नए पेज में आपको व्यपवर्तन सूचना के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा
  • इसके बाद आपको यूजरनेम, डिपार्टमेंट, पासवर्ड, कैप्चा कोड दर्ज करना होगा
  • अब submit के बटन पर क्लिक करना होगा
  • जैसे ही आप submit के बटन पर क्लिक करेंगे तो आपकी स्क्रीन पर Diversion Intimation का पेज खुल कर आ जाएगा|

एमपी भूलेख राजस्व भुगतान कैसे चेक करें

  • सबसे पहले एमपी भूलेख की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं
  • अब सामने खुले होम पेज पर पब्लिक यूजर पर क्लिक करें
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस नए पेज में राजस्व भुगतान के लिंक पर क्लिक करें
  • जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करेंगे आपको लॉग इन करने के लिए एक फॉर्म दिया जाएगा
  • अब इस फॉर्म में आपको अपना यूजरनेम, डिपार्टमेंट, पासवर्ड ,कैप्चा कोड दर्ज करना होगा
  • अब सबमिट के बटन पर क्लिक करें
  • Submit बटन पर क्लिक करते ही राजस्व भुगतान की सारी जानकारी आपके समक्ष आ जाएगी|

एमपी भूलेख पोर्टल हेल्पलाइन नंबर

यदि आप अपनी जमीन से जुड़ी कोई भी जानकारी जानना चाहते हैं या आपको कोई समस्या होती है| तो आप एमपी भूलेख पोर्टल के हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं| आप अपनी समस्या भूलेख पोर्टल पर ईमेल भी कर सकते हैं|

  • हेल्पलाइन नंबर – 18002336763
  • ई-मेल आईडी- [email protected]

एमपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

एमपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट- mpbhulekh.gov.in है।

Conclusion-

एमपी भूलेख पोर्टल को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा डिजिटलीकरण को बढ़ावा देने तथा राज्य के नागरिकों को सुविधा प्रदान करने के लिए शुरू किया गया है| पोर्टल पर आप अपनी जमीन से जुड़ी सभी जानकारी घर बैठे ही ऑनलाइन देख सकते हैं |

इस एमपी भूलेख पोर्टल का एक प्रमुख उद्देश्य भ्रष्टाचार को कम करना है| अब आपको अपनी जमीन से जुड़े किसी भी कागजात के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं होगी| इससे आपके समय की बचत होगी | पोर्टल के तहत आप की जमीन से जुड़ी सभी जानकारी ऑनलाइन दर्ज की जाएगी |

और देखे

हरियाणा परिवार पहचान पत्र

Leave a comment