आत्मनिर्भर भारत अभियान – Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan In Hindi

आत्मनिर्भर भारत अभियान क्या है |आत्मनिर्भर भारत योजना PDF in Hindi | आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना | आत्मनिर्भर भारत योजना ऑनलाइन फॉर्म | Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan In Hindi | atma nirbhar bharat abhiyan package details | आत्मनिर्भर भारत टोल फ्री नंबर | आत्मनिर्भर भारत ऐप

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan In Hindi :- नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप |उम्मीद है कि आप अच्छे ही होंगे| दोस्तों आज हम आपको आत्मनिर्भर भारत अभियान के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे दोस्तों कोरोनावायरस आपदा को प्रधानमंत्री जी ने अवसर में बदलने का निर्णय लिया है उन्होंने दिनांक 12 मई 2020 को पूरे देश को संबोधित करते हुए एक राहत पैक तैयार किया है जिससे भारत की जनता आत्मनिर्भर बन सकेगी और संकट से लड़ सकेगी यह राहत पैक आधुनिक भारत की पहचान बनेगा भारत में आत्मनिर्भर अभियान पर सरकार द्वारा 20 लाख करोड़ रुपए जो देश की जीडीपी का लगभग 10 परसेंट है का बजट घोषित किया गया है जिससे भारत की जनता इस संकट से लड़ सके और जानकारी प्राप्त करने हेतु आप हमारे आर्टिकल को अंत तक पढ़े|

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं देश में कोरोना महामारी से देश की आर्थिक व्यवस्था और आम जनता कितनी प्रभावित हुई है दोस्तों इसीलिए हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से यूएस इंडिया बिजनेस काउंसिल द्वारा आयोजित इंडिया आइडियाज शिखर सम्मेलन में भाषण देकर संबोधित किया पिछले 6 वर्षों के दौरान मोदी जी ने अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए कई प्रयास किए हैं इन सुधारों की वजह से प्रतिस्पर्धात्मक ता पारदर्शिता डिजिटाइजेशन इनोवेशन ऑफ पॉलिसी स्थिरता बड़ी है नरेंद्र मोदी जी के निर्देश पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने छात्रों और शिक्षकों व तनाव दूर करने के लिए पहले मनोवैज्ञानिक मनो दर्पण गाइडलाइन बनाई है जिसके द्वारा तनाव को दूर किया जाएगा और आत्मनिर्भर बनने पर जोर दिया जाएगा|

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2021

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan टोल फ्री नंबर

दोस्तों केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत स्कूल और उच्च शिक्षण प्राप्त करने वाले छात्रों के लिए टोल फ्री नंबर जारी किया है इस टोल फ्री नंबर से बच्चों की पढ़ाई में आ रही परेशानी के बारे में संपर्क किया जा सकता है इस टोल फ्री नंबर की शुरुआत केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री जी ने की है यह टोल फ्री नंबर 8448440632 है  |

आत्मनिर्भर भारत ऐप

दोस्तों देश के प्रधानमंत्री जी ने लिंक्डइन की पोस्ट के लिंक को साझा करते  हुए 4 जुलाई 2020 को  ट्वीट करते हुए @GoI_MeitY और @AIMtoInnovate  आत्‍मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज को लॉन्च किया है इस ऍप के माध्यम से देश के युवाओ को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया जायेगा |मोदी ने कहा कि भारत में एक गतिशील प्रौद्योगिकी और स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी तंत्र है जिसने भारत को राष्ट्रीय ही नहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गौरव प्राप्त होगा आत्मनिर्भर एप्लीकेशन इनोवेशन चैलेंज को आत्मनिर्भर मिशन के तहत लांच किया गया है|

PM Kisan FPO Yojana 2021

आत्मनिर्भर भारत एप्लीकेशन इन्नोवेशन चैलेंज

दोस्तों भारत सरकार ने डिजिटल स्‍ट्राइक करते हुए चीन के 59 ऐप्‍स को बैन कर दिया है जिसके बाद भारत सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत ऍप को लॉन्च किया गया है |आत्मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेंज दो ट्रैक पर काम करेगा | ट्रैक-1 मिशन मोड में काम करते हुए अच्‍छी क्‍वालिटी के ऐप्‍स की पहचान करेगा | ट्रैक-2 के तहत नए ऐप्‍स और प्‍लेटफॉर्म बनाने के लिए आइडिएशन के स्‍तर से लेकर के बाजार की पहुंच तक सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी | इस ऍप  के माध्यम से मौजूदा ऐप्‍स को प्रोत्‍साहन. ई-लर्निंग, वर्क फ्रॉम होम, गेमिंग, बिजनेस, एंटरटेनमेंट, ऑफिस यूटिलिटीज और सोशल नेटवर्किंग की श्रेणियों वाले ऐप्‍स को सरकार गाइड करने के साथ सपोर्ट करेगी | ऐसा करने से देशवासियों को ही इनकम होगी और भारत का पैसा भारत में ही रहेगा जिससे भारत की अर्थव्यवस्था में सुधार आएगा|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा की गई नई घोषणा

दोस्तों हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने मगलवार को भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के सालाना बैठक को संबोधित किया। इस बैठक में पीएम मोदी जी ने कहा है कि हमारी सरकार प्राइवेट सेक्टर को देश की विकास यात्रा में साझेदार मानती है भारत को फिर से तेज़ विकास के पथ पर लाने के लिए, आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए 5 चीजें बहुत ज़रूरी हैं | जो हमने नीचे दी हुई है|

  • इंटेंट यानी इरादा
  • इन्क्लूजन यानी समावेशन
  • इन्वेस्टमेंट यानी निवेश
  • इन्फ्रास्ट्रक्चर यानी बुनियादी ढांचा
  • इनोवेशन यानी नवोन्मेष जिसके द्वारा भारतीय आत्मनिर्भर बन सकेंगे और देश का विकास हो सकेगा|

रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना

3 माह में पीपी किट की सैकड़ों करोड़ की इंडस्ट्री

दोस्तों पिछले तीन महीने में ही पीपीई की करोड़ों की इंडस्ट्री भारतीय उद्यमियों ने ही खड़ी की है।प्रधानमंत्री जी का कहना है  कि देश में मेक इन इंडिया को रोजगार का बड़ा माध्यम बनाने के लिए कई प्राथमिक सेक्टर्स की पहचान की गई है। अब तक तीन सेक्टर पर काम शुरू भी हो चुका है। पीएम मोदी ने कहा, ‘जरूरत है कि देश में ऐसे उत्पाद बनें, जो मेड इन इंडिया हो और मेड फॉर द वर्ल्ड हो। 

आत्मनिर्भर भारत अभियान न्यू अपडेट

दोस्तों  महामारी के दौरान लगे लॉकडाउन से आम जनता और गरीब तबके के   लोगो का जीवन काफी प्रभावित हुआ है सरकार चाहती है कि इन लोगों की जिंदगी फिर से पटरी पर लौट सके इसीलिए प्रधानमंत्री जी ने एक योजना की घोषणा की है इस योजना का नाम प्रधानमंत्री स्वयं निधि योजना है इस योजना के तहत सरकार ₹10000 का लोन दे रही है जिससे आप अपना व्यवस्थाएं फिर से शुरू कर सकते हैं ₹10000 उन व्यक्तियों को दिए जा रहे हैं जो सड़क पर रेहड़ी लगाते हैं और उसी पर निर्भर है इस योजना के तहत भारत को आत्मनिर्भर बनने में सफलता मिलेगी|

Pm Kisan Online Registration And Correction

पूर्ण जानकारी आत्मनिर्भर भारत अभियान  राहत पैकेज

योजना का नाम                 आत्मनिर्भर भारत अभियान
किसके द्वारा आरंभ की गई         प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
योजना का प्रकार                     केंद्र सरकार
लाभार्थी                                 देश का प्रत्येक नागरिक
उद्देश्य                       समृद्ध और संपन्न भारत निर्माण
आरंभ की तिथि                   12 मई 2020
पैकेज की धनराशि               20 लाख करोड़ रुपए
ऑफिशियल वेबसाइट       https://www.pmindia.gov.in/en/

एमएसएमई के तहत की गई 16- घोषणाएं

दोस्तों केंद्र सरकार द्वारा सूक्ष्म लघु मध्यम वर्गीय गृह उद्योग (MSMEs)के लिए निम्नलिखित 16 घोषणाएं की है

यह कुछ इस प्रकार है|

  • Rupee 3 lakh Crore Collateral free automatic loan for business including MSMEs – MSMEs सहित व्यापार के लिए रुपये 3 लाख करोड़ संपार्श्विक नि: शुल्क स्वचालित ऋण
  • Rupee 20000 Crore subordinate debt for MSMEs – MSMEs के लिए रु। 20000 करोड़ अधीनस्थ ऋण
  • Rupees 50000 crore equity infusion through MSMEs fund of funds – MSMEs के फंड के माध्यम से रुपए 50000 karod इक्विटी इन्फ्यूशन
  • New Definition Of MSMEs – MSMEs की नई परिभाषा
  • Global Tender For to be disallowed upto rs 200 crores – ग्लोबल टेंडर 200 करोड़ रुपये तक का है
  • Other Interventions For MSMEs – एसएमई के लिए अन्य हस्तक्षेप
  • Rs 2500 Crore EPF Support For Business and Workers For 3 More Months – 3 और महीनों के लिए व्यापार और श्रमिकों के लिए 2500 करोड़ रुपये का ईपीएफ समर्थन

सुकन्या समृद्धि योजना

  • EPF Contribution reduced for business and workers for 3 months – ईपीएफ अंशदान 3 महीने के लिए व्यापार और श्रमिकों के लिए कम हो गया
  • Rs 30000 Crore Liquidity facility for NBFCS/HCs/MFIs – एनबीएफसीएस / एचसी / एमएफआई के लिए 30000 करोड़ रुपये की सुविधा
  • 45000 Cr Partial Credit Guarantee Scheme For NBFC – एनबीएफसी के लिए 45000 करोड़ रुपये की आंशिक क्रेडिट गारंटी योजना
  • Rs 90000 Crore Liquidity injection for DISCOMs – DISCOM के लिए 90000 करोड़ रुपये की तरलता इंजेक्शन
  • Relief to Contractors – ठेकेदारों को राहत
  • Extension of registration and completion date of real estate projects under RERA – RERA के तहत रियल एस्टेट परियोजनाओं के पंजीकरण और पूर्णता तिथि का विस्तार
  • Rs 50000 cr Liquidity through TDs/TCS reduction – टीडीएस / टीसीएस कटौती के माध्यम से 50000 करोड़ रुपये की तरलता
  • Other Tax Measures – अन्य कर उपाय

गरीब श्रमिकों और किसानों के लिए की गई मुख्य घोषणाएं

दोस्तों 14 मई 2020 को Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan के तहत गरीब मजदूरों और किसानों के लिए मुख्य घोषणाएं की गई हैं जो इस प्रकार है|

  • Direct Support to Farmers and Rural Economy Provided Post COVID-19 – किसानों और ग्रामीण अर्थव्यवस्था को प्रत्यक्ष सहायता प्रदान की पोस्ट COVID-19
  • Support for migrant and urban poor during the last 2 months – पिछले 2 महीनों के दौरान प्रवासी और शहरी गरीबों के लिए सहायता
  • MGNREGS Support to returning Migrants – प्रवासियों को वापस करने के लिए MGNREGS सहायता
  • Changes in Labour code- Benefits for workers – श्रम संहिता में बदलाव- श्रमिकों के लिए लाभ
  • Free food supply to migrants for 2 months – 2 महीने के लिए प्रवासियों को मुफ्त भोजन की आपूर्ति
  • Technology system to be used enabling migrants to access public distribution system from any fair price shop in India by march 2021- One Nation One Ration Card – वन नेशन वन राशन कार्ड द्वारा भारत में किसी भी उचित मूल्य की दुकान से सार्वजनिक वितरण प्रणाली का उपयोग करने के लिए प्रवासियों को सक्षम करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली प्रौद्योगिकी प्रणाली
  • Affordable rental housing complexes (ARCH) for Migrant Workers/ urban Poor – प्रवासी श्रमिकों / शहरी गरीबों के लिए किफायती किराये के आवास परिसर (ARCH)
  • Rs 1500 Crore Interest subvention for Mudra Shishu Loans – मुद्रा शिशु ऋण के लिए 1500 करोड़ रु

WBMDFC Scholarship 2021

  • Rs 5000 Crore Special Credit Facility for Street Vendors – स्ट्रीट वेंडर्स के लिए 5000 करोड़ रुपये की विशेष क्रेडिट सुविधा
  • 70000 crore Rs to boost the housing sector and middle-income group through the extension of CLSS – सीएलएसएस के विस्तार के माध्यम से आवास क्षेत्र और मध्यम आय वर्ग को बढ़ावा देने के लिए 70000 करोड़ रु
  • Rs 6000 Crore employment push using CAMPA funds – CAMPA फंड का उपयोग कर 6000 करोड़ रोजगार धक्का
  • 30000 crore Rs additional emergency working capital funding for farmers through NABARD – नाबार्ड के माध्यम से किसानों के लिए 30000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त आपातकालीन कार्यशील पूंजीगत निधि
  • Rs 2 Lakh concessional credit to boost 2.5 crore farmers through Kisan Credit Card  – किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से 2.5 करोड़ किसानों को बढ़ावा देने के लिए 2 लाख रु

किसानों की आय दोगुनी करने के लिए 11 घोषणाएं

दोस्तों केंद्र सरकार ने देश के किसानों की आय को बढ़ाने के लिए निम्न घोषणाएं की गई है |

जिससे किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा यह घोषणाएं कुछ इस प्रकार है|

  • Rs 11 Lakh Crore Fund For the Establishment of Agriculture Infrastructure – कृषि अवसंरचना की स्थापना के लिए 11 लाख करोड़ रुपये का कोष
  • A New Scheme Worth Rs 10000 Crore aimed at a formalisation of micro food enterprises – सूक्ष्म खाद्य उद्यमों के एक औपचारिककरण के उद्देश्य से एक नई योजना के लायक रु 10000 करोड़
  • Allocated Rs 2000 Crore For Fisherman under the Pradhan Mantri Matstya Sampada Yojana – प्रधान मंत्री मातृ संपदा योजना के तहत मछुआरों के लिए 2000 करोड़ रुपये आवंटित
  • Rs 15000 Crore For Developing animal husbandry infrastructure will be setup – पशुपालन के बुनियादी ढांचे के विकास के लिए 15000 करोड़ रुपये का सेटअप किया जाएगा
  • Central Government will allocate Rs 4000 crore for herbal cultivation – केंद्र सरकार हर्बल खेती के लिए 4000 करोड़ रुपये आवंटित करेगी
  • For beekeeping initiatives Rs 500 crore has been set aside – मधुमक्खी पालन की पहल के लिए 500 करोड़ रुपये अलग रखे गए हैं|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योजना

  • Operation Green will be expanded to cover all fruits and vegetables for Rs 500 crore – 500 करोड़ रुपये के सभी फलों और सब्जियों को कवर करने के लिए ऑपरेशन ग्रीन का विस्तार किया जाएगा
  • Amendments will be brought to the essential food like cereals, edible oil, oil seeds, pulses, onion and potatoes – अनाज, खाद्य तेल, तिलहन, दालें, प्याज और आलू जैसे आवश्यक भोजन में संशोधन लाया जाएगा
  • Agriculture marketing reforms will be implemented through a new law that will remove barriers to interstate trade – कृषि विपणन सुधारों को एक नए कानून के माध्यम से लागू किया जाएगा जो अंतरराज्यीय व्यापार के लिए बाधाओं को दूर करेगा
  • The farmer will be given price and quality assurance through facilitative agriculture produce – किसान को सुविधात्मक कृषि उपज के माध्यम से मूल्य और गुणवत्ता आश्वासन दिया जाएगा

चौथा और पाँचवाँ ट्रान्च

  • दोस्तों ज्यादातर  कार्य संरचनात्मक सुधारों से जुड़ा था, कुल मिलाकर इसका अमाउंट crore 48,100 करोड़ था
  • वायबिलिटी गैप फंडिंग ₹ 8,100 करोड़
  • अतिरिक्त MGNREGS 40,000 करोड़

पीएम मोदी आत्मनिर्भर योजना

दोस्तों हमारा देश बीमारियों से काफी संघर्ष करते हुए आगे बढ़ा है और  अब  कोरोनावायरस आपदा कोविड-19 को हराना है और विश्व कल्याण में पुनः अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाना है | किसी भी देश के विकास में और उसे आत्मनिर्भर बनाने के लिए मुख्यतः 5 चीजों की आवश्यकता होती है|

  • अर्थव्यवस्था  (Economy)
  • आधारिक संरचना (better Infrastructure)
  • प्रणाली (System)
  • जनसांख्यिकी (Demography)
  • मांग और आपूर्ति (Dempand & Supply Chain)

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan के संकल्प

  • दोस्तों देश के विकास वर्गो को एक साथ जोड़ा जाएगा |
  • जिससे विकास को नई गति प्राप्त होगी
  • Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan में मजदूर श्रमिक और किसान लघु उद्योग कुटीर उद्योग मध्यमवर्गीय उद्योग सभी पर ध्यान दिया जाएगा|
  •  और सभी उद्योगों के लिए 2000000  करोड़ रुपए की सहायता पैकेज प्रदान किया जाएगा|

उत्तर-प्रदेश आवास विकास योजना 2021

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan के लाभार्थी कौन बन सकते हैं

  • देश का गरीब नागरिक
  • श्रमिक
  • प्रवासी मजदूर
  • पशुपालक
  • मछुआरे
  • किसान
  • संगठित क्षेत्र व असंगठित क्षेत्र के व्यक्ति
  • काश्तकार
  • कुटीर उद्योग
  • लघु उद्योग
  • मध्यमवर्गीय उद्योग

पीएम मोदी के राहत पैकेज से लाभ

  • 10 करोड़ मजदूरों को लाभ होगा
  • MSME से जुड़े 11 करोड़ कर्मचारियों को फायदा
  • इंडस्ट्री से जुड़े 3.8 करोड़ लोगों को लाभ पहुंचेगा
  •  टेक्सटाइल इंडस्ट्री से जुड़े 4.5 करोड़ कर्मचारियों को लाभ पहुंचेगा |
  • ये आर्थिक पैकेज हमारे कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, हमारे लघु-मंझोले उद्योग, हमारे MSME के लिए है,
  • जो करोड़ों लोगों की आजीविका का साधन है |
  • इस आर्थिक पैकेज से गरीब मजदूरों, कर्मचारियों के साथ ही होटल तथा टेक्सटाइल
  • जैसी इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को फायदा होगा।

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan राहत पैकेज के अंतर्गत महत्वपूर्ण क्षेत्र

इन क्षेत्रों में Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan राहत पैकेज का लाभ प्रदान किया जाएगा|

  • कृषि प्रणाली (Reformation Of Agricultural Supply Chain & System)
  • सरल और स्पष्ट नियम कानून (Rational Tax System)
  • उत्तम आधारिक संरचना (Reformation Of Infrastructure)
  • समर्थ और संकल्पित मानवाधिकार ( Capable Human Resources)
  • बेहतर वित्तीय सेवा (A Good Financial System)
  • नए व्यवसाय को प्रेरित करना (To Motivate New Business)
  • निवेश को प्रेरित करना (Provide Good Investment Opportunities)
  • मेक इन इंडिया (Make In India Mission)

अभियान का निष्कर्ष

दोस्तों प्रधानमंत्री मोदी जी ने ठीक ही कहा है कि आत्मनिर्भरता आत्मबल और आत्मविश्वास से ही संभव है आइए हम मिलकर देश के विकास में योगदान दें और वैश्विक आपूर्ति चयन में अपनी भूमिका निभाएं प्यारे देशवासियों आज भारत के सामने एक बहुत बड़ी चुनौती इस कोरोना  महामारी आपदा के रूप में खड़ी है जिससे भारत की अर्थव्यवस्था संकट में है भारत की संस्कृति और भारत के संस्कार हमें संसार के सुख सहयोग और शांति की चिंता सिखाती है आइए मिलकर अपनी पूरी संकल्प शक्ति के साथ इस महामारी का सामना करें और भारत को विकास की दिशा में अग्रसर करने के लिए योगदान दें और भारत के प्रत्येक व्यक्ति को आत्मनिर्भर बनने की प्रेरणा दें|

Conclusion

दोस्तों आज हमने आपको Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan के बारे में जानकारी प्रदान की प्रधानमंत्री जी द्वारा भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया और उन क्षेत्रों के बारे में जानकारी दी जिसमें Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan के तहत सरकार सहायता राशि प्रदान कर रही है दोस्तों यदि आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप हमारी वेबसाइट पर विजिट करते रहिए ताकि हम आपको इसके न्यू अपडेट दे सके दोस्तों हमारा आर्टिकल पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद|

Leave a comment